free me website kaise banaye | फ्री में वेबसाइट कैसे बनाये

Free me website kaise banaye |फ्री में वेबसाइट कैसे बनाये

काफी लोगों का ये सवाल होता है की फ्री में वेबसाइट कैसे बनाये ? इस सवाल का उत्तर काफी आसान है |
लेकिन उससे पहले एक सवाल ये आ जाता है की आपको फ्री में वेबसाइट क्यों चाहिए ? कहीं पे आपने सुन
लिया की ब्लॉगिंग में काफी पैसा है और बस आप फ्री में अपना ब्लॉग शुरू करने का प्लान बना लिए तो
तो एक बात साफ तौर से आपको समझ जानी चाहिए की फ्री में वेबसाइट बना कर आप ब्लॉगिंग से पैसा नहीं कमा सकते हैं |

अगर आप ब्लॉगिंग वेबसाइट बनाना सीखना चाहते हैं तो आपको कुछ पैसे तो निवेश करना पड़ेगा
तभी आप सही तरीके से ब्लॉगिंग सिख सकते हैं | बिलकुल फ्री में कभी कुछ नहीं मिलता है | हम किसी
भी तरह से आपको डिमोटिवेट नहीं करना चाहते हैं, हमारा मकसद है आपको साफ-साफ और सही जानकारी देना |

ब्लॉगिंग से काफी पैसे कमाए जा सकते हैं ये बिलकुल सही है लेकिन उसको फ्री में शुरू नहीं किया जा सकता ये भी सच है |

कई जगह आपक सुनने को मिल जायेंगे की गूगल के फ्री ब्लॉगर पे आप फ्री में
वेबसाइट बना सकते हैं; तो एक बात आपको ध्यान में रखनी चाहिए की उस वेबसाइट
में काफी ज्यादा लिमिटेशन होता है|

आप वेबसाइट तो बना लेंगे पर उस वेबसाइट पे आपका पूरी तरह से कण्ट्रोल नहीं होगा |
कुछ भी कंटेंट अगर गूगल के पॉलिसी के खिलाफ जाता है तो गूगल तत्काल आपके वेबसाइट को डिलीट कर सकता है |

गूगल ब्लॉगर के फ्री डोमेन को आप मैनेज नहीं कर सकते इसका मतलब अगर आप कहीं दूसरे
स्रोत से इनकम करना चाहते हैं जैसे एफिलिएट मार्केटिंग या दूसरे विज्ञापन नेटवर्क के मदद से अपने वेबसाइट पे विज्ञापन दिखाना चाहेंगे तो उसमे आपको परेशानी हो सकती है |

वेबसाइट बनाने के लिए किन चीजों की आवश्यकता होती है

ब्लॉगिंग या किसी भी तरह के वेबसाइट शुरू करने के लिए कम से कम तीन
चीजों की आवश्यकता होती है –

  1. डोमेन
  2. होस्टिंग
  3. कंटेंट मैनेजमेंट सिस्टम (CMS)

डोमेन

डोमेन आपके वेबसाइट का नाम होता है जिसके मदद से कोई भी यूजर आपके वेबसाइट को इंटरनेट पे
आसानी से ढूंढ सकता है और आपके वेबसाइट तक पहुँच सकता है | डोमेन क्या होता है पोस्ट
के माध्यम से डोमेन के बारे में और ज्यादा विस्तृत जानकारी प्राप्त कर सकते हैं |

होस्टिंग

होस्टिंग इंटरनेट सर्वर में एक जगह होता है जहाँ पे आपके वेबसाइट के ऊपर शेयर किये गए इमेज टेक्स्ट
और फाइल स्टोर होता है | होस्टिंग क्या होता है पोस्ट के माध्यम से होस्टिंग के बारे में और ज्यादा विस्तृत जानकारी प्राप्त कर सकते हैं |

कंटेंट मैनेजमेंट सिस्टम (CMS)

कंटेंट मैनेजमेंट सिस्टम एक सॉफ्टवेयर होता है जिसके मदद से वेबसाइट को डिज़ाइन किया जाता है |
जैसे- वर्डप्रेस एक फ्री कंटेंट मैनेजमेंट सिस्टम है | पुरे इंटरनेट में जितने वेबसाइट है उसका 50% वेबसाइट
वर्डप्रेस के मदद से बना हुआ है, तो इसी बात से आप अंदाजा लगा सकते हैं की ये कितना लोकप्रिय सॉफ्टवेयर है |

वर्डप्रेस क्या है इस पोस्ट के माध्यम से वर्डप्रेस के बारे में और ज्यादा विस्तृत जानकारी प्राप्त कर सकते हैं |

डोमेन और होस्टिंग की बात करें तो ये आपको किसी कंपनी से खरीदना होता है| कुछ कंपनी होस्टिंग के साथ डोमेन फ्री देती है, तो कुछ कंपनी में अलग से डोमेन खरदीना होता है |

जैसे- Bluehost कंपनी से आप होस्टिंग खरीदते हैं तो आपको एक साल के लिए डोमेन फ्री में मिल जाता है| Bluehost काफी अच्छी कंपनी है | 20 लाख से ज्यादा वेबसाइट Bluehost के द्वारा होस्ट की जा चुकी है |

और भी होस्टिंग कंपनी है जहाँ से आप होस्टिंग खरीद सकते हैं जैसे- Hostinger, Dreamhost,
Siateground.

इन सब में हमें Bluehost का सर्विस सबसे बेहतरीन लगा इसी लिए हम आपको ब्लूहोस्ट ही लेने का सलाह देंगे |

बिना डिज़ाइनर के मदद से Free Me Website Kaise Banaye

फ्री में वेबसाइट बनाने का मतलब है आप डिज़ाइनर को जो पैसा देंगे वो आपका बच जयेगा |
लेकिन डोमेन नाम और होस्टिंग के बिना वेबसाइट बनाना संभव नहीं है | अगर आपका
कोई बिज़नेस है या फिर आप ऐसे ही सिखने के लिए वेबसाइट बनाना चाहते हैं तो भी डोमेन और होस्टिंग खरीद के ही वेबसाइट की शुरुआत कर सकते हैं।

वर्डप्रेस के माध्यम से आप किसी भी प्रकार का वेबसाइट बना सकते हैं | वर्डप्रेस पे वेबसाइट
कैसे बनाये
इसके बारे में काफी डिटेल्स से एक पोस्ट लिखा जा चूका है | उस पोस्ट में बताये गए
स्टेप को फॉलो कर के कोई भी व्यक्ति आसानी से अपना वेबसाइट बना सकता है |

फ्री वेबसाइट में क्या क्या लिमिटेशन होती है

(Free me website kaise banaye)

अभी भी अगर आप जवाब से संतुष्ट नहीं हैं तो चलिये हम आपको फ्री वेबसाइट नहीं बनाने का कारण बताते हैं :

1. SEO (Search engine optimization)

फ्री वेबसाइट में सबसे बड़ी प्रॉब्लम होती है आप उसपे आसानी से SEO नहीं कर सकते हैं |
आप जो कुछ भी अपने वेबसाइट पे कंटेंट डालते हैं वो गूगल सर्च के मदद से लोगो के पास

तभी पहुँचता है जब आपके वेबसाइट का SEO अच्छे से हुआ हो |

वहीं वर्डप्रेस के माध्यम से अगर आप वेबसाइट बनाते हैं तो उसपे काफी सारे Plugin
उपलब्ध हैं जिसके मदद से आसानी से अपने वेबसाइट में SEO कर सकते हैं |
जैसे: Yoast plugin और Rankmath

SEO क्यों जरूरी है

किसी भी वेबसाइट को बनांने का मुख्य वजह वेबसाइट के ऊपर दिए कंटेंट को लोगो
तक पहुँचाना होता है | वेबसाइट पे जब तक गूगल से organic Traffic नहीं आता है
तब तक वेबसाइट और बिज़नेस आगे नहीं बढ़ सकता है |

SEO करने के समय वेबसाइट को किसी खाश टॉपिक के कीवर्ड को टारगेट कर करके बनाया
जाता है | जब कोई व्यक्ति उस कीवर्ड को गूगल में सर्च करता है और अगर आपका वेबसाइट
सबसे ऊपर दिखाता है तो यूजर के आपके वेबसाइट पे विजिट करने के चांस बढ़ जाते हैं | गूगल उसी
वेब पेज को सबसे ऊपर दिखता है जो SEO किया हुआ होता है | बिना SEO के किसी भी वेबसाइट
को आगे बढ़ाना काफी मुश्किल है

2. वेबसाइट डिज़ाइन (Free me website kaise banaye)

फ्री वाले वेबसाइट में आप अपने मन मुताबिक डिज़ाइन नही कर सकते हैं | किसी भी वेबसाइट को कोई भी
यूजर तभी विजिट करते हैं जब उन्हें वेबसाइट डिज़ाइन अच्छा लगे और यूजर फ्रेंडली होना चाहिए |

वर्डप्रेस में काफी सारे पहले से बने हुए थीम मौजूद होते हैं जिसको इस्तेमाल कर के आसानी से अपने
वेबसाइट के डिज़ाइन को सुन्दर बना सकते हैं और अपने हिसाब से डिज़ाइन को CSTOMIZE भी कर सकते हैं |

3. वेबसाइट फीचर (Free me website kaise banaye)

जब आप फ्री वेबसाइट बनाते हैं तो उसमे अगर कुछ एडवांस्ड फीचर इस्तेमाल करना चाहते हैं तो वो
आप नहीं कर सकते | जो लोग Technical बैकग्राउंड से नहीं हैं उन्हें तो और ज्यादा परेशानी हो सकती है |
जैसे – वेबसाइट पे फोरम , Question/Answer साइट , कमेंट सिस्टम, डिजिटल प्रोडक्ट स्टोर ये सभी फीचर फ्री वाले साइट में नहीं मिल सकता है |

वहीं wordpres के ऊपर अगर वेबसाइट बनाते हैं तो आपको कुछ plugins के मदद से ये सभी फीचर आपके वेबसाइट में आसानी से उपलब्ध हो जाते हैं |

और भी ऐसे कई फीचर हैं जो वर्डप्रेस में आसानी से इस्तेमाल कर सकते हैं लेकिन फ्री वाले वेबसाइट में उस फीचर का इस्तेमाल करना काफी मुश्किल है |

See Also:

ब्लॉगिंग क्या होता है

Leave a Comment

Your email address will not be published.